Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

नशा करने के लिए सिरिंज शेयर करना 6 युवकों को पड़ा भारी, स्वास्थ्य विभाग में खलबली

यदि आप भी नशा करने के लिए सिरिंज का इस्तेमाल करते हैं, तो संभल जाएँ

रुद्रपुर: यदि आप भी नशा करने के लिए सिरिंज का इस्तेमाल करते हैं, तो संभल जाएँ। यहाँ जनपद में महीने भर में नशे के दौरान संक्रमित सिरिंज को शेयर करने वाले छह युवकएचआईवी पॉजिटिव पाए गए, जिसके बाद से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है। एसटी सेंटर की रिपोर्ट पर एड्स पीड़ित इन छह युवकों का हल्द्वानी एआरटी सेंटर में इलाज शुरू कर दिया गया है।

बता दें कि इससे पहले रुद्रपुर में नये साल के पहले दिन एड्स पीड़ित एक नशेड़ी युवक की मौत हुई थी। जिले में युवाओं में बढ़ती नशे की प्रवृति अब घातक बनती जा रही है। जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. डीडी रखोलिया के मुताबिक ओएसटी सेंटर में 381 मरीजों का अभी भी इलाज चल रहा है। जिनमें से इंजेक्शन लगाकर नशा करने वाले 120 मरीज शामिल हैं। जनवरी में आई ओएसटी की रिपोर्ट में जिले में नशे के लिए सिरिंज को शेयर करने वाले छह युवक एचआईवी पॉजिटिव मिले हैं।

इंजेक्शन से नशा करने के आदी इन युवकों ने एड्स संक्रमित दूसरे साथियों के साथ नशे के इंजेक्शन शेयर करने की स्वयं पुष्टि की है। इस गोपनीय रिपोर्ट से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मची हुई है। ओएसटी प्रभारी एवं काउंसलर डॉ. श्वेता दीक्षित ने बताया कि जिले में वर्ष 2013 से अब तक इंजेक्शन से नशा लेने से 76 युवा एड्स से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 21 युवकों की मौत हो चुकी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button