Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

मसूरी के लाल टिब्बा व धनौल्टी में बर्फ़बारी के बाद पर्यटकों ने किया पर्यटन नगरी का रूख

प्रदेशभर में बारिश व बर्फ़बारी के बाद लोगों ने ली राहत की साँस, व्यापारियों व काश्तकारों के खिले चेहरे

देहरादून:  प्रदेशभर में मौसम ने एक बार फिर करवट बदल ली है। सोमवार रातभर से रुक-रुक कर बारिश होने के बाद मंगलवार सुबह अधिकांश पहाड़ी इलाको ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। वहीं निचले स्थानों में बारिश का भी दौर शुरू हो गया है। धनौल्टी व मसूरी के ऊँचाई वाले क्षेत्रों में सुबह बर्फ़बारी होने से व्यापारियों के चेहरे खिल उठे। वहीं पर्यटक भी यहाँ का रूख करने लगे हैं। वहीं राजधानी देहरादून में भी कल रात से रुक-रुक कर अब तक बारिश जारी रही। लंबे समय बाद बारिश बर्फ़बारी के बाद  लोगों ने राहत की सांस ली है।

सोमवार से उत्तराखंड के चारों धामो में जमकर  बर्फ़बारी हो रही है। बर्फबारी के कारण केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य भी प्रभावित हुए हैं। वहां मौजूद करीब चार सौ श्रमिक दिन भर अपने टेंटों में ही कैद रहे। उत्तरकाशी की हर्षिल घाटी और दयारा बुग्याल में भी बर्फ पडऩी शुरू हो गई है। मंगलवार सुबह धनौल्टी व मसूरी के ऊँचाई वाले क्षेत्रों लाल टिब्बा, चार दुकान में भी बर्फ़बारी होने से व्यापारियों के चेहरे खिल गये। वहीं बर्फबारी की सूचना मिलते ही पर्यटकों ने सुबह ही धनौल्टी की और रुख कर लिया है। खिरसू में भी बर्फबारी हुई, जबकि चमोली जिले में देर रात से बारिश और बर्फबारी हो रही है। केदारनाथ, बद्रीनाथ, हेमकुंड, रुद्रनाथ, फूलों की घाटी, चकराता के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी होती रही और निचले क्षेत्रों में बारिश जारी है। रुद्रप्रयाग के ऊपरी गांवों में जमकर बर्फ़बारी हो रही है। श्रीनगर, नई टिहरी, कोटद्वार और इनके आसपास के क्षेत्रों में रात से बारिश जारी है। यमुनोत्री धाम सहित यमुनोत्री से लगे गीठ पट्टी के बारह गांवों में मध्यरात्री से आज सुबह तक बारिश के साथ ही हिमपात हो रहा है। जबकि बड़कोट क्षेत्र में रातभर से झमाझम बारिश हो रही है। राडी टॉप में तड़के से बर्फबारी हो रही है। लंबे समय बाद बारिश होने पर लोगों ने ली राहत की सांस ली है। वहीं निचले क्षेत्रों में बारिश से काश्तकारों के चेहरे खिल गए।

उधर, पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी में हिमपात जारी रहा। पिथौरागढ़ शहर के आसपास की चोटी चंडाक, थलकेदार, सोरलेख और ध्वज में हिमपात जारी है। पिथौरागढ़ जिले में चौकोड़ी, झलतोला, लंबकेश्वर, पाताल भुवनेश्वर हुआ बर्फ से लकदक हो गया है। कल रात्रि से ऊंचाई वाले इलाकों में जारी बर्फबारी के बाद मुनस्यारी के निचले इलाकों, बाजार में बर्फबारी जारी है। बाजार में अभी लगभग 3 इंच पड़ चुकी है। कलामुनि, बटुली धार में लगभग 2 फुट से ज्यादा बर्फ होने के आसार हैं। थल मुनस्यारी मोटर मार्ग कल रात से बंद पड़ा है। अभी वाहन वाया जौलजीबी जा रहे हैं। ज्यादा बर्फबारी होने पर यह मार्ग भी बाधित हो सकता है। अल्मोड़ा में भी धौलछीना, जागेश्वर, वृद्ध जागेश्वर, स्याही देवी, मौरनौला, मोतियापाथर, शहरफाटक, मिरतोला, बेड़ीनाग आदि क्षेत्र में बर्फबारी हुई है। गरुड़ और कौसानी में कल रात से बारिश जारी है।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार आज उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ में भारी बर्फबारी के आसार हैं। इसके अलावा देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में बारिश के साथ ओले भी गिर सकते हैं। देहरादून में न्यूनतम तापमान 10.1 तो अल्मोडा़ में भी यह 3.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग के अनुसार न्यूनतम तापमान में चार से पांच डिग्री सेल्सियस का इजाफा हुआ। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ (वेस्टर्न डिस्टर्बेंस) है। यह स्थिति करीब एक सप्ताह तक बनी रह सकती है। कुमाऊं में भी मौसम का मिजाज बदल रहा है। तराई व भाबर में सायं से मौसम ने जोरदार करवट ली। नैनीताल में मौसम के मिजाज को देखते हुए बर्फबारी की संभावना बलवती हो गई है। मौसम की चेतावनी के मद्देनजर जिला प्रशासन ने देहरादून, हरिद्वार, रुद्रप्रयाग, उत्‍तरकाशी और टिहरी के स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button