Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

देशभक्ति के रंग में डूबा उत्तराखंड, राज्यपाल ने किया ध्वजारोहण, मुख्यमंत्री ने ली परेड की सलामी

भी सरकारी, गैर सरकारी, अर्ध सरकारी, निजी, स्कूल-कलेजों और सार्वजनिक प्रतिष्ठानों में ध्वजारोहण और सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए आयोजित

देहरादून: पूरे देश में 70वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। उत्तराखंड भी देशभक्ति के रंग में डूब गया है। इस मौके पर जगह जगह स्कूली बच्चों ने प्रभात फेरियां निकाली। साथ ही आकर्षक झांकियां भी निकाली गई। चारों ओर ‘भारत माता’ की जय के नारे गूंज उठे। सभी सरकारी, गैर सरकारी, अर्ध सरकारी, निजी, स्कूल-कलेजों और सार्वजनिक प्रतिष्ठानों में ध्वजारोहण और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गए।

राजधानी के परेड ग्राउंड में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सम्मानित किया। इस दौरान जवानों समेत एनसीसी कैडेट्स ने मार्च पास्ट करते हुए रज्यपाल को सलामी दी। राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आए लोक कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने परेड की सलामी। इस दौरान विभागों की कई आकर्षक झाकियां भी प्रस्तुत की गई। वहीं सभी जिलों में प्रभारी मंत्रियों और जिलाधिकारियों ने जिला मुख्यालयों में ध्वजारोहण किया।

इससे पहले राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने राजभवन में तिरंगा फहराया। इस मौके पर राज्यपाल ने उत्तराखंड के विकास की कामना की और जनता से संविधान का सम्मान करने का आह्वान किया।

वहीँ दूसरी ओर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी सीएम आवास में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर सीएम ने देशवासियों व प्रदेश के लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को श्रद्धासुमन करने के साथ देश के लिए अपने जीवन की आहुति देने वाले वीर जवानों को भी नमन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि नए भारत के निर्माण में उत्तराखंड अपनी सक्रिय भागीदारी निभा रहा हैं। विकास का लाभ दूरस्थ क्षेत्रों की जनता तक पहुंचाने का सरकार भरसक प्रयास कर रही है। उनकी सरकार प्रदेश में पारदर्शी, ईमानदार और कुशल शासन देने को कटिबद्ध है।

परेड ग्राउंड में गणतंत्र दिवस की परेड के बाद वंदेमातरम गायन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमे हजारों की तादात में लोगों ने वंदेमातरम का गायन किया। वंदेमातरम गायन कार्यक्रम के दौरान आसपास के क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था कायम रही, इसके लिए यातायात व्यवस्था में भी बदलाव किया गया।

परेड में दिखी सौभाग्य और आयुष्मान योजना की झलक

गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह देहरादून के परेड मैदान में आयोजित हुआ। जहां मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत परेड की सलामी ली। गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान उरेडा की ओर से घर-घर बिजली, घर-घर प्रकाश’ वाली झांकी पेश की गई। उत्तराखंड पुलिस की ओर से निकाली गई झांकी में आपदा प्रबंधन की झलक दिखाई दी। वहीं स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयार झांकी में ‘अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना’ हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर्स, शिक्षा विभाग की ओर से’ आदर्श विद्यालय’ ग्राम्य विकास विभाग की ओर निकाली गई झांकी में मनरेगा योजना, प्रधानमंत्री आवास तथा नेशनल लाइवलीहुड रूरल मिशन की थीम पर झांकियां निकाली गईं। इन विभागों के अलावा स्वजल, पर्यटन, उद्यान, राष्ट्रीय राजमार्ग, विकास प्राधिकरण समेत 11 विभागों की ओर से आकर्षक झांकियां निकाली गईं।

गणतंत्र दिवस पर सरकार एयर एंबुलेंस सेवा आरंभ करेगी। हालांकि सरकार ने अभी इसके लिए अलग से हेलीकॉप्टर नहीं खरीदा है, लेकिन पूर्व घोषणा के तहत आवश्यकता के अनुसार निजी कंपनी के हेलीकॉप्टर से सेवा आरंभ होगी। इसका संचालन स्वास्थ्य विभाग करेगा। उन्होंने कहा कि इसी वित्तीय वर्ष में सरकार टेली पैथोलॉजी शुरू करेगी। जुलाई-अगस्त तक पूरा प्रदेश 100 प्रतिशत इंटरनेट सुविधा से जुड़ जाएगा।

परेड में 11 विभागों के सुरक्षा दस्तों ने की मार्च पास्ट

गणतंत्र दिवस परेड में मार्च दस्तों में सेना, आईटीबीपी, पीएसी, उत्तराखंड पुलिस, हिमाचल पुलिस, उत्तराखंड विशेष पुलिस, उत्तराखंड विशेष पुलिस महिला, होमगार्ड, पीआरडी, एनसीसी ब्वायज, एनसीसी गर्ल्स समेत कुल 11 दस्तों ने मार्च पास्ट किया।

गणतंत्र दिवस पर सरकार ने की एयर एंबुलेंस सेवा आरंभ

प्रदेश के करीब 20 हजार से अधिक आंगनबाड़ी केंद्रों में सरकार बच्चों को पौष्टिक ऊर्जा आहार के साथ ही हफ्ते में दो दिन दूध भी उपलब्ध कराएगी। करीब 13 हजार आशा कार्यकर्ताओं को भी प्रदेश सरकार खुशखबरी देने जा रही है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यह एलान किया है। हालांकि आशा कार्यकर्ताओं के बारे में वे क्या खुशखबरी देने जा रहे हैं, इसका उन्होंने खुलासा नहीं किया। उन्होंने कहा कि सरकार एक हफ्ते में इसके बारे में निर्णय लेगी।

मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने सचिवालय में किया ध्वजारोहण

मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने सचिवालय में ध्वजारोहण किया। इस मौके पर सचिवालय के सभी अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे। ध्वजारोहण के बाद राजकीय माध्यमिक कन्या विद्यालय की छात्राओं ने देश भक्ति कार्यक्रम प्रस्तुत किये। जिसके बाद मुख्य सचिव ने सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को संबोधित करते हुए देश की अखंडता और एकता के साथ साथ प्रदेश को प्रगति के पथ पर ले जाने का संदेश दिया।

ध्वजारोहण कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मुख्य सचिव ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी। इस दौरान मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने प्रदेशवासियों को पूरी रफ्तार से विकास के पथ पर अग्रसर होने का संदेश दिया। इस मौके पर कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली राजकीय माध्यमिक कन्या विद्यालय की छात्राओं को मुख्य सचिव ने पौधों के रूप में पुरस्कार दिया। साथ ही रन अगेंस्ट ड्रग्स मैराथन में अव्वल रहने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button