Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

केंद्रीय अंतरिम बजट से महंगाई के साथ ही आम आदमी के सिर पर और बढेगा बोझ: कांग्रेस

केंद्रीय अंतरिम बजट दिशाहीन, प्रतिगामी और विकास विरोधी: प्रीतम सिंह

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने केंद्रीय अंतरिम बजट को दिशाहीन, प्रतिगामी और विकास विरोधी बताया है। उन्होंने कहा कि सिर्फ लुभावनी घोषणाओं वाले इस बजट से महंगाई के साथ ही आम आदमी के सिर पर और बोझ बढेगा।

बजट पर प्रतिक्रिया जताते हुए प्रीतम सिंह ने कहा कि इसमें केंद्र सरकार की हठधर्मिता स्पष्ट रूप से झलकती है। उन्होंने कहा कि इस लेखानुदान से देश की आर्थिक वृद्धि पर चोट पहुंचेगी। वित्त मंत्री ने लेखानुदान बजट में आकड़ों की बाजीगरी की है। कोरी घोषणाओं से भरे लेखानुदान बजट में वित्तीय प्रबंधन का नितात अभाव है तथा इस बजट से मंहगाई बढ़ने के साथ ही आम आदमी के सिर पर बोझ बढे़गा।

उन्होंने कहा कि बजट के प्रावधानों से विकास दर दहाई का आकड़ा भी नहीं छू पाएगी और न ही रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि लेखानुदान बजट में मात्र घोषणाओं का अंबार लगाया गया है परन्तु उन्हें पूरा करने के लिए पैसा कहा से आएगा, इसका उल्लेख नहीं है।

प्रीतम सिंह ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी के नुकसान की भरपाई तथा आम जनता को मंहगाई से निजात दिलाने के लिए बजट में कोई प्रावधान नहीं किया गया है। बजट में नौजवानों के भविष्य की घोर उपेक्षा की गई है। नोटबंदी और जीएसटी से देश में कई हजार लघु उद्योग बन्द हुए, रीयल स्टेट सेक्टर में काम पूरी तरह से ठप हुआ तथा किसानो को उनकी उत्पाद लागत न मिलने के कारण कृषि क्षेत्र में भी रोजगार के अवसर न्यूनतम हुए हैं।

उन्होंने कहा कि रोजगार के सृजन तथा महिलाओं के सशक्तीकरण एवं सम्मान की बात केवल नरेंद्र मोदी के लच्छेदार भाषणों का हिस्सा मात्र है। आत्म हत्या के लिए मजबूर हो रहे किसानों को बरगलाने का काम किया गया है तथा उनके लिए बजट में किसी प्रकार की राहत नहीं दी गई है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button