Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि चढ़ी भ्रष्टाचार की भेंट, तो बृद्ध ने बनाया पुलिस चौकी को आशियाना 

नरेंद्र दीक्षित

प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि चढ़ी भ्रष्टाचार की भेंट तो बृद्ध ने बनाया पुलिस चौकी को आशियाना

बड़ामलहरा

शासन भले ही हर गरीब को आशियाना देने के लिये प्रतिबद्ध है और लगातार प्रधानमंत्री आवास योजना की मानीटरिंग की जा रही है किंतु जमीनी स्तर पर बड़े पैमाने पर फैले भ्रष्टाचार के कारण हितग्राहियों को उसका लाभ नही मिल पा रहा है ।इसी के चलते शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं पर पानी फिर जाता है ।ताजा मामला भ्रष्टाचार के मामले मे जिले मे चर्चित जनपद पंचायत बड़ामलहरा का है जहां एक गरीब बृद्ध की प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि सरपंच सचिव ने मिलकर हड़प ली जगह जगह शिकायती आवेदन देकर थक चुके बेघर बृद्ध ने पंचायत की पुलिस चौकी को ही अपना आशियाना बना लिया।जनपद की ग्राम पंचायत कर्री भ्रष्टाचार की प्रयोगशाला बनी हुई है हासिल जानकारी के मुताबिक कर्री के हरिजन बस्ती निवासी बृद्ध जनकिया अहिरवार पिता बंदू अहिरवार ने बताया कि गत वर्ष प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची मे उसका नाम आ गया था तथा सरपंच सचिव ने उसके कह दिया कि तुम आवास बनाने का काम लगा दो किस्त जल्दी ही तुम्हें उपलब्ध करा दी जायेगी तथा पहली किस्त चालीस हजार जारी होने पर मुझे केवल तीन हजार रूपये सरपंच सचिव द्वारा दिये गये लेकिन तब तक मे स्वयं के पैसों से अपना कच्चा मकान गिराकर आधा बना चुका था गत वर्ष जुलाई से अब तक मै और मेरे लड़के सरपंच सचिव से राशि देने की गुहार लगाते रहे किंतु सरपंच सचिव द्वारा कोई तबज्जो मेरी बात को नही दी गई मेरे लड़के मुझे छोड़कर दिल्ली मजदूरी करने चले गये और कच्चा मकान गिरा देने के कारण मै बेघर हो गया इसी के चलते मैने पुलिस चौकी के दालान मे अपना डेरा डाल लिया है तथा गांव मे खाना मांगकर गुजर बसर कर रहा हूं ।ग्राम पंचायत के वाशिंदो का कहना कि सरपंच सचिव द्वारा बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है तथा प्रधानमंत्री आवास योजना की किस्तें जारी कराने के लिये खुलेआम पैसों की मांग की जाती जनकिया अहिरवार का मामला तो पंचायत मे फैले भ्रष्टाचार और मनमानी की केवल एक बानगी है यहां ऐसे कई मामले हैं ।वहीं ग्राम पंचायत के उपसरपंच लोकेन्द्र सिंह का कहना है कि पंचायत मे हुये भ्रष्टाचार को साक्ष्यों सहित कई बार मै जिम्मेदार अधिकारियों को जांच कराने के आवेदन दे चुका हूं मगर अब तक कोई ठोस कार्यवाही नही हुई है ।
।। इनका कहना है ।।
आपके द्वारा यह मामला मेरी जानकारी मे आया है मै शीघ्र ही निराकरण करवाता हूं ।।
(अजय सिहं )
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बड़ामलहरा ।।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button