Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

प्राइवेट क्लीनिक के चपरासी की गलती से मासूम की मौत

ब्यूरो रिपोर्ट

प्राइवेट क्लीनिक के चपरासी की गलती से मासूम की मौत

बकस्वाहा

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अस्पताल के बी एम ओ डाँ एल एल अहिरवार के अस्पताल परिसर में स्थित प्राइवेट क्लीनिक मे चपरासी द्वारा इंजेक्शन लगाने से 6 साल की मासूम जान गँवा बैठी।डॉक्टर के निजी अस्पताल में चपरासी का काम करने वाले युवक ने 6 साल की राधा पटेल को इंजेक्शन लगाया बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई। प्राप्त जानकारी अनुसार राधा के पेट मे तकलीफ होने पर परिजन उसे अस्पताल लेकर गये जहाँ डाक्टर की ग़ैरमौजूदगी मे उनके कामगार ने परिजन को मना करने के बाद भी राधा को इंजेक्शन लगाया जिसके तत्काल बाद ही राधा चिरनिद्रा में सो गई। ज्ञात हो कि यहाँ डॉक्टर की कृपा से उनकी गैरमौजूदगी में चपरासी ही इलाज करता है। नाराज परिजन अस्पताल मे हाहाकार करते बच्ची के शव के साथ थाना पहुँचे जहाँ शिकायती आवेदन पर दण्डात्मक कार्यवाही की मांग की।परिजनों को पुलिस द्वारा आवेदन लेकर उचित कार्यवाही का आश्वासन देने पर वो पी एम को तैयार हुये। कल सुबह बच्ची का पीएम किया जायेगा।

121 गांव के लिए बने अस्पताल में सिर्फ एक डॉक्टर जिसकी निजी अस्पताल में चपरासी है डॉक्टर की गैरमौजूदगी में जिनके द्वारा इलाज किया जाता इंजेक्शन लगाए जाते है जिस कारण हुई बच्चे की मौत

आर एन तिवारी थाना प्रभारी
मर्ग कायम करके पैनल से पोस्टमार्टम करवाया जायेगा जिनकी भी गलती होगी कार्यवाही होगी

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button