Select your Language: हिन्दी
UNCATEGORIZED

युवक के अपहरण की आसंका, तलास रही पुलिस

दमोह/नोहटा

 

परिजनो ने बेटे के अपहरण की जताई आशंका देर रात्रि तक युवक को खोजती रही पुलिस नही मिला कोई सुराग!!

मनोहर शर्मा
दमोह जिले के-नोहटा थाना मुख्यालय निवासी विकल्प पिता संतोष जैन उम्र 22 वर्ष सुबह सेंटिग करवाने के कार्य से हथनी गया था और दोपहर 12 बजे मां विमलेश जैन को फोन करके बताया कि माँ हम हथनी से जबेरा की ओर आने वाली फोरविलर से घर आ रहे है बहुत भूख लगी है खाना बनाकर रखना लेकिन हथनी से नोहटा तक फोरविलर से मात्र 15 मिनट का सफर है लेकिन माँ से बात करने के बाद विकल्प का मोबाइल स्विचऑफ बता रहा था और दो बजे तक घर नही आने से बेटे के अपहरण की चिंता से घबराए परिजनों मां का रोते रोते बुरा हाल हो गया और बेटे के घर नही आने तक मां ने अन्न जल त्याग कर दिया इसी दौरान टिक -टाक पर विकल्प का हांथ पैर बांध हुआ मुंह तौलिए से बंधा घुटने के बल एक कमरे बैठा हुआ एक वीडियो अपलोड किया गया जिसको देखकर अपहरण होने की चिंता से भयभीत नोहटा नगर वासियो में युवक के अपहरण की आसंका के चलते नोहटा थाना पहुंचकर घटना से पीड़ित परिवार के समर्थन सेकड़ो लोगो ने पुलिस पर लापता युवक को खोजने का दवाव बनाते हुए कार्यवाही की गति देने की मांग की गई जिसके चलते नोहटा थाना प्रभारी सुधीर बेगी पोलिस टीम के साथ शाम 8 बजे घटना स्थल हथनी के लिए रवाना हुए है मामले की जांच के लिए –पुलिस जहां भी मोबाइल लोकेशन मिल रही और वीडियो के आधार पर कर रही जांच!
नोहटा थाना प्रभारी सुधीर बेगी सहित पुलिस टीम ने नोहटा से लेकर युवक की फ़ोटो वीडियो दिखाकर आभाना में लोगों से पूंछतांछ करने के बाद हथनी जैन मंदिर पहुंची है विजोरी में युवक स्विचऑफ के पहले की टावर लोकेशन मिलने पर पूंछतांछ की जा रही पुलिस को जहां भी संदेह हो रहा वहां पर पहुंचकर ग्रामीणों से युवक की फ़ोटो ओर कही दिखाई देने की जानकारी ली जा रही है
थाना प्रभारी नोहटा सुधीर बेगी का कहना है युवक जिस ढावे पर अपने दो साथियों के साथ चाय पीने पहुंचा था चाय पीने के बाद चाय का पेमैंट 50₹देने के बाद साथियों से बोला तुम मन्दिर काम पर चले जाओ हम घर नोहटा जाते है और ढावे संचालक ने बताया कि मां को फोरवीलर से घर आने की बात मोबाइल पर की गई लेकिन वह यही खड़े खड़े बात कर रहा फोरवीलर में नही बैठा है जिसके बाद मोबाइल स्विचऑफ हो जाता है और वीडियो जो टिक टिक पर डाला गया वह अपहरण का मामला होता तो परिजनों के मोबाइल पर डाला जाता अन्य लोगों के मोबाईल पर क्यों ऐसे बहुत से प्रश्न है जो अपहरण की ओर प्रथम दृष्टि मैं तो इशारा नही करते लेकिन पुलिस हर एंगल पर जांच कर रही जहा जहां मोबाइल की लोकेशन मिल रही य फिर जहां भी युवक उठता बैठता था पोलिस को अभी तक तो युवक का कोई सुराग नही मिला लेकिन गुम इंसान कायमी के बाद युवक को खोजने का प्रयास किया जा रहा है शीर्घ ही मामले का सच सामने आएगा !!

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button