Select your Language: हिन्दी
BOLLYWOOD

गुंजन सक्सेना की बायोपिक पर विवाद थमने का नहीं ले रहा नाम, अब रिटायर्ड विंग कमांडर ने उठाए सवाल

गुंजन सक्सेना की बायोपिक पर विवाद थमने का नहीं ले रहा नाम, अब रिटायर्ड विंग कमांडर ने उठाए सवाल

मुंबई। भारतीय वायु सेना के पहले फीमेल बैच को ट्रेंड करने वाले रिटायर्ड विंग कमांडर आईके खन्ना ने एक कॉलम लिखा है जिसमें उन्होंने फिल्म गुंजन सक्सेना में दिखाए गए तथ्यों और जानकारियों पर सवाल उठाए हैं. जाह्नवी कपूर स्टारर फिल्म ट्रेलर की रिलीज के साथ ही विवादों में आ गई थी और तब से लेकर अब तक इस पर लगातार सवाल उठाए जाते रहे हैं.

खन्ना ने अपने कॉलम में लिखा, “बेंगलुरु के येलाहंका एयरफोर्स स्टेशन पर जब 7 महिला पायलट्स का पहला बैच आया तब जुलाई 1994 के समय मैं वहां मौजूद इंस्ट्रक्टर्स में से एक था. जिन्होंने ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट के लिए भारतीय वायुसेना की ट्रेनिंग शुरू कराई थी. मुझे हैरानी होती है कि फिल्म का स्क्रीनप्ले भारतीय वायुसेना के साथ क्यों नहीं शेयर किया गया.”

उन्होंने कहा कि सभी महिलाओं को बैच में एक समान तरीके से ट्रीट किया गया था और किसी को भी चेंज करने के लिए अपने कमरों तक नहीं दौड़ना पड़ा था, जैसा कि गुंजन सक्सेना में दिखाया गया है. हरिता कौर देओल की कहानी बताते हुए उन्होंने कहा कि ट्रेनिंग फ्लाइट पर वह एक जर्नलिस्ट के साथ जाने वाली थीं, जिसमें उन्हें वो चीजें करनी थी जो फिल्म में गुंजन सक्सेना को करते हुए दिखाया गया है.

जाह्नवी कपूर ने मांगी थी माफी

खन्ना ने कहा, “लिंग भेद भारतीय लोगों में सदियों से रहा है लेकिन महिलाएं डिफेंस का हिस्सा सालों से बनी हुई हैं. जहां तक पंजा लड़ाए जाने वाले सीन की बात है तो वो इसी बात को साबित करता है.” बता दें कि जाह्नवी कपूर स्टारर इस फिल्म पर पहले ही इतना विवाद हो चुका है कि हाल ही में जाह्नवी ने खुद ये बात कही थी कि उनकी मंशा भारतीय वायु सेना की छवि को ठेस पहुंचाने की नहीं थी.

Show More

Related Articles

Back to top button