Select your Language: हिन्दी
BOLLYWOOD

सुशांत की राजपूत की मौत पर लेखक प्रसून जोशी ने तोड़ी चुप्पी, पढ़े क्या कहा?

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में लेखक प्रसून जोशी ने टिप्पणी की है. उनकी टिप्पणी ऐसे समय पर आई है, जब मुंबई पुलिस के साथ एम्स ने भी इसे आत्महत्या का मामला माना है. वहीं सुशांत का परिवार और उनके वकील ऐसा मानने को तैयार नहीं हैं. फिलहाल, प्रसून जोशी सीबीएफसी (सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन) के अध्यक्ष हैं.

उन्होंने कहा है कि उनकी राय में ‘हत्या की तुलना में आत्महत्या एक बड़ी चिंता का विषय है, क्योंकि हत्यारों को पकड़ा जा सकता है और दंडित किया जा सकता है. प्रसून ने आत्महत्या को एक बीमारी बताया, जिसे लेकर समाज को ज्यादा चिंता करनी चाहिए.

उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए, ताकि यह समझा जा सके कि कुछ लोग इस तरह के दबाव में क्यों आते हैं. बता दें कि सुशांत 14 जून को अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे.

आत्महत्या को बताया चिंता का विषय

प्रसून ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘आत्महत्या मेरे लिए हत्या से भी बड़ी चिंता का विषय है, क्योंकि हत्या में एक अपराधी होता है. जबकि आत्महत्या एक बीमारी है. इससे यह बात स्पष्ट होती है कि कुछ तो सही नहीं है, लोग असुरक्षित हैं और चीजों का सामना करने में सक्षम नहीं हैं. यह कोई छोटी बात नहीं है. यह एक बीमारी की जड़ है. इसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए. यह सिर्फ कुछ हिट फिल्मों को लेकर नहीं है, आखिर जीवन फिल्मों से बड़ा होता है. इंडस्ट्री में बहुत से संवेदनशील लोग हैं, जरूरत इस बात की है कि सभी रचनात्मक स्तर पर साथ आएं और इससे उबरने का प्रयास करें.’

Show More

Related Articles

Back to top button