Select your Language: हिन्दी
BOLLYWOOD

सुशांत केस मे दीपेश सावंत ने NCB के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर मांगा 10 लाख का मुआवजा

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत केस में आए ड्रग्स मामले में न्यायिक हिरासत में रहे सुशांत के घर में काम करने वाले दीपेश सावंत ने एनसीबी के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की है. दीपेश ने इस याचिका के जरिए एनसीबी से 10 लाख रुपए मुआवजे की भी मांग की है. दीपेश का आरोप है कि एनसीबी ने उन्हें गैर-कानून तरीके से ड्रग्स केस में हिरासत में लिया था. ये याचिका 5 अक्टूबर को दायर की गई थी.

दीपेश सावंत की इस याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को सुनवाई की और इस 6 नवंबर तक स्थगित कर दिया है. इस याचिका पर न्यायाधीश एसएस शिंदे और जस्टिस एमस कर्णिक की खंडपीठ सुनवाई करेगा. दीपेश सावंत को बॉम्बे हाईकोर्ट ने एनसीबी की न्यायिक हिरासत से जमानत को मंजूरी दी थी.

एनसीबी ने किया सुप्रीम कोर्ट के नियमों का उल्लंघन

याचिका में दीपेश सावंत ने दावा किया है कि उन्हें 36 घंटे से ज्यादा वक्त के बाद मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया था. यह सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का सीधा उल्लंघन है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों में बताया गया है कि किसी भी आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद 24 घंटे के भीतर मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने होता है. इसक साथ ही दीपेश ने दावा किया कि एनसीबी ने उनकी गिरफ्तारी का वक्त 5 सितंबर को रात 8 बजे दिखाया, जबकि उन्हें 4 सितंबर को रात 10 बजे गिरफ्तार किया और 6 सितंबर को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया.

एनसीबी ने ड्रग्स मामले में किया था गिरफ्तार

सुशांत सिंह राजपूत ने कथित तौर पर 14 जून को सुसाइड कर लिया था. अभी सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई, ईडी और एनसीबी जैसी तीन बड़ी जांच एजेंसियां जांच कर रही हैं. ये सभी एजेंसियां सुशंत सिंह राजपूत केस में अलग-अलग एंगल पर जांच कर रही हैं. एनसीबी इसमें ड्रग्स मामले की जांच कर रही है, जिसके तहत एनसीबी ने सुशांत की गर्लफ्रेंड रही रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती, सुशांत के घर में काम करने वाले दीपेश सावंत को गिरफ्तार किया था. इन सभी सुशांत के लिए ड्रग्स सप्लाई करने का आरोप है.

Show More

Related Articles

Back to top button