Select your Language: हिन्दी
BOLLYWOOD

सरकार का साथ देकर आलोचनाओं से घिरे अभिनेता सुनील शेट्टी, अब ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब

मुंबई. अभिनेता सुनील शेट्टी ने कल बाकी बॉलीवुड सितारों की तरह ही सोशल मीडिया पर देश के समर्थन में एक ट्वीट किया. इसमें एक्टर ने कहा कि आधे सच से ज्यादा खतरनाक कुछ नहीं होता है. उन्होंने विदेश मंत्रालय के एक ट्वीट के समर्थन में ये बात कही. विदेश मंत्रालय के इस ट्वीट के बाद ही अक्षय कुमार, सुनील शेट्टी जैसे कई सितारों ने देश का बचाव किया और कहा कि बाहर लोगों पर भरोसा ना करें.

दरअसल, ऐसा इसलिए करना पड़ा क्योंकि पॉप सिंगर रिहाना ने किसानों के आंदोलन को लेकर एक ट्वीट किया था जो वायरल हो गया. इसके बाद कई विदेशी हस्तियों ने किसान आंदोलन के समर्थन में अपनी आवाज उठाई. बाद में विदेश मंत्रालय को इस पर नसीहत जारी करनी पड़ी. इसी को लेकर सुनील शेट्टी भी सामने आए और अपनी बात रखी लेकिन उन्हें ट्रोलर्स का सामना करना पड़ा.

सुनील शेट्टी ने क्या कहा था

इस अभिनेता ने ट्वीट करते हुए कहा, “हमे पूरी चीजों को हमेशा व्यापक तौर पर देखना चाहिए क्योंकि आधी सच्चाई से ज्यादा खतरनाक और कुछ नहीं हो सकता है.”

इस ट्वीट के बाद उन्हें काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. अब सुनील शेट्टी ने ट्रोलर्स को जवाब दिया है. सुनीले शेट्टी ने से बात करते हुए कहा, ”मैं किसानों का समर्थन कर रहा हूं. मैं सरकार का समर्थन कर रहा हूं और मैं देश का समर्थन कर रहा हूं. मेरी राय साफ है कि विदेश कलाकार हमारे देश को बदनाम कर रहे हैं और देश में जो कुछ हो रहा है उसकी गलत छवि पेश कर रहे हैं.”

आगे एक्टर ने कहा, ”मैं खुद किसान हूं, मेरे पूर्वजों ने किसानी की है. हमें हमेशा सम्मान करना चाहिए. किसान हमारे बैकबोन हैं. ये सबसे महत्वपूर्ण बात है और मेरी राय भी इसे लेकर साफ है.”

किसान आंदोलन पर रिहाना ने क्या कहा-

रिहाना ने मंगलवार को आंदोलन से संबंधित एक खबर को शेयर करते हुए ट्विटर पर लिखा, ”हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे?” इसके बाद ही इसे लेकर कई बड़ी हस्तियों ने ट्वीट किया और विदेश मंत्रालय को इस बारे में बयान जारी करना पड़ा.

विदेश मंत्रालय ने किया आगाह

गौरतलब है कि भारत ने किसानों के प्रदर्शन पर पॉप गायिका रिहाना सहित विदेशों की मशहूर हस्तियों एवं अन्य लोगों की टिप्पणियों पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा कि प्रदर्शन के बारे में जल्दबाजी में टिप्पणी से पहले तथ्यों की जांच-परख की जानी चाहिए और सोशल मीडिया पर हैशटैग तथा सनसनीखेज टिप्पणियों की ललक न तो सही है और न ही जिम्मेदाराना है.

Show More

Related Articles

Back to top button