Select your Language: हिन्दी
BOLLYWOOD

अभिनेत्री कंगना रनौत की मुश्‍क‍िलें बढ़ीं, विधानसभा की विशेषाधिकार हनन समिति के सामने होना पड़ेगा पेश

मुंबई. बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस कंगना रनौत की मुश्‍क‍िलें बढ़ती जा रही हैं। एक ओर जहां वह कोर्ट-कचहरी के चक्‍कर लगा रही हैं, वहीं अब महाराष्‍ट्र विधानसभा की विशेषाध‍िकार हनन समिति ने भी ऐक्‍ट्रेस को अगले सत्र तक पेश होने के लिए कहा है। मामला महाराष्‍ट्र राज्‍य और मुख्‍यमंत्री के ख‍िलाफ अपमानजनक शब्‍दों के इस्‍तेमाल का है। कंगना के ख‍िलाफ शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक ने विधानसभा में विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाया था।

कौन हैं प्रताप सरनाईक
मामला सितंबर 2020 का है। कंगना रनौत ने ट्विटर के जरिए महाराष्‍ट्र सरकार और मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर अर्नगल बयान दिए हैं। कंगना के ख‍िलाफ विशेषाध‍िकार हनन प्रस्‍ताव लाने वाले प्रताप सरनाईक वही विधायक हैं, जिन्‍होंने ऐक्‍ट्रेस के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने की भी मांग की थी।

कंगना ने महाराष्‍ट्र को बताया था पाकिस्‍तान
बता दें कि कंगना रनौत के दफ्तर पर जब बीएमसी ने कार्रवाई की थी, तब कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) से की थी। यही नहीं, उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर भी अपमानजनक बातें की थीं। उस वक्‍त प्रताप सारनाईक ने कंगना के ख‍िलाफ देशद्रोह का मुकदमा करने की मांग कर रहे थे।

संजय राउत और कंगना की जुबानी जंग
कंगना रनौत और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच ट्विटर पर खूब जुबानी जंग हो चुकी है। मामला तब बढ़ा था जब संजय राउत ने ट्विटर के जरिए आरोप लगाया कि कंगना ने मुंबई पुलिस का अपमान किया है। यही नहीं, राउत ने कंगना को मुंबई नहीं लौटने की भी सलाह दी थी। इसी पर कंगना ने ट्वीट कर लिखा कि शिवसेना नेता संजय राउत उन्‍हें धमकी दे रहे हैं और उन्‍हें मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जैसा महसूस हो रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button