Select your Language: हिन्दी
REVIEWS

बेहतरीन है एम एक्स की ऐतिहासिक ड्रामा वेब सीरीज की छत्रसाल, आशुतोष राणा ने किरदार में डाली जान

छत्रसाल बुंदेलखंड के उस राजा छत्रसाल की कहानी है, जिन्होनें मुगल सल्तनत के सबसे खुंखार शाषक औरंगज़ेब को पांच बार घुटनों के बल झुकने को मजूबर किया था और वो भी तब जब बाकी हिंदुस्तान के बाकी राजा औरंगज़ेब को चुनौति देने को सोच भी नहीं सकते थे। ऐसे में भारत के मध्यकालीन इतिहास के इस विषय को एमएक्स प्लेयर द्वारा सीरीज के रूप में पेश करना स्वागत योग्य है। इस सीरीज में छ्त्रसाल के जन्म से लेकर उनके किशोरा और युवावस्था के घटनाक्रम काफी विस्तार से दिखाए गए हैं। जिसमें पहले एपिसोड की शुरूआत 17वीं शताब्दी के हिंदुस्तान से होती है, जहां मुग़लों के सबसे खुंखार शासक औरंगजेब की तूती बोल रही होती है। शहजादा औरंगज़ेब शहंशाह-ए-आलमगीर, बादशाह-ए-औरंगजेब बन बैठा है। औरंगज़ेब के आंतक से डरे सभी भारतीय राजा बिना लड़े ही घुटने टेकते जा रहे हैं।

इस सीरीज की सबसे अच्छी बात इसकी स्टार कास्ट है। खासतौर पर औरंगज़ेब के रूप में आशुतोष राणा की अदायगी देखना उनके फैंस के लिए अपने आप में ट्रीट है। ख़लनायिकी से हिंदी सिनेमा में अपनी पहचान बनाने वाले आशुतोष राणा औरंगज़ेब की भूमिका में काफी जंचे हैं। भाव-भंगिमा से लेकर संवादगी और शारीरिक डीलडौल सब कुछ बिलकुल परफेक्ट लगा है। वहीं राजा छत्रसाल के किरदार में जितिन गुलाटी ने भी अपनी भूमिका अच्छी निभाई है।

Show More
Back to top button